Blog

उड़ाने होंगी सस्ती? सरकार ने घटाया एविएशन टरबाइन फ्यूल पर टैक्स, क्या पेट्रोल-डीजल भी होगा असर

 भारत सरकार ने डीजल और एविएशन टरबाइन फ्यूल के निर्यात पर विंडफॉल टैक्स घटा दिया है. वहीं, कच्चे तेल पर विंडफॉल टैक्स में वृद्धि की गई है. भारत सरकार द्वारा जारी एक अधिसूचना में इसकी जानकारी दी गई है. कच्चे तेल पर विंडफॉल को बढ़ाकर ₹1,300 से बढ़ाकर ₹2,300 प्रति टन कर दिया गया है. वहीं, विंडफॉल टैक्स पर 0.5 रुपये प्रति लीटर घटा दिया गया है. विमान ईंधन यानी एविएश टरबाइन फ्यूल पर टैक्स 1 रुपये प्रति लीटर घटा दिया गया है.

गौरतलब है कि यह टैक्स निर्यात पर घटाया गया है. इसलिए इससे भारतीय कंज्यूमर्स को सीधा फायदा होता नहीं दिखता है. भारत ने जुलाई 2022 में क्रूड ऑयल प्रोडक्ट्स पर विंडफॉल टैक्स लगा दिया था. ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि घरेलू निजी रिफाइनरी स्थानीय स्तर पर ईंधन बेचने की बजाय रिफाइनिंग मार्जिन से लाभ कमाने के लिए विदेशों में ऊंचे दामों पर ईंधन बेचना शुरू कर दिया था.

पेट्रोल-डीजल के दाम में कमी
न्यूज18 की एक खबर के अनुसार, आने वाले कुछ दिन में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में तेज गिरावट हो सकती है. सरकार 2024 के चुनाव से पहले यह कदम उठा सकती है. इस खबर के कुछ दिन बाद ही एविएशन फ्यूल पर विंडफॉल टैक्स को घटाने की सूचना जारी की गई है. ऐसा माना जा रहा है कि पेट्रोल-डीजल की कीमत में 10 रुपये तक की कटौती हो सकती है. आपको बता दें कि 2 साल पहले सरकार ने पेट्रोल की कीमत पर 8 रुपये और डीजल पर 6 रुपये प्रति लीटर की कटौती की थी. खबर के अनुसार, देशभर में ईंधन की कीमतों में कटौती के पक्ष में एक प्रस्ताव प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजा गया है.

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल पर दबाव
इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल पर दबाव बना हुआ है. एक समय 120 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच स्पॉट क्रूड ऑयल आज 70 डॉलर के आसपास पर पहुंच गया है. मंगलवार को डब्ल्यूटीआई क्रूड 71.96 डॉलर और ब्रेंट क्रूड 77 डॉलर के करीब ट्रेड कर रहा है.

Related Articles

Back to top button