उत्तर प्रदेश

विश्वविद्यालयों में नशे के खिलाफ गठित हो इंटरनल टीम, सीएम योगी ने समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

सीएम योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक में विकसित भारत संकल्प यात्रा की समीक्षा करते हुए कहा कि इसमें अधिक से अधिक संख्या में नागरिकों और योजनाओं के लाभार्थियों को शामिल किया जाए.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज शुक्रवार (8 दिसंबर) को ग्रेटर नोएडा स्थित गौतमबुद्ध यूनिवर्सिटी के सभागार में नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना प्राधिकरण और मेरठ मंडल की कानून व्यवस्था और विकास कार्यों की समीक्षा. इस दौरान सीएम योगी ने अवैध नशे के सौदागरों के खिलाफ चलाये जा रहे प्रदेशव्यापी अभियान में विश्वविद्यालयों को भी जोड़ने की बात कही. इसके साथ ही सीएम योगी ने विश्वविद्यालयों से अपने यहां नशे के खिलाफ इंटरनल टीम के गठन की बात कही.

वहीं सीएम योगी ने बैठक में मौजूद वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को नशे के खिलाफ चल रहे अभियान में तेजी और सख्ती लाने के निर्देश दिए. इसके अलावा सीएम योगी ने विश्वविद्यालयों और शिक्षण संस्थानों के आसपास मंडराने वाले संदिग्ध लोगों की जांच-पड़ताल करने का भी निर्देश दिया. सीएम योगी ने कहा कि छात्रों को अवैध नशे के दलदल में झोंकने वाले तत्वों को गिरफ्तार करते हुए उनकी संपत्तियों को जब्त करने की कार्रवाई की जाए. वहीं उन्होंने मेडिकल कॉलेजों में रिहैबिलेशन सेंटरों की स्थापना करने के भी निर्देश दिए.

सीएम योगी ने की विकसित भारत संकल्प यात्रा की समीक्षा 

सीएम योगी ने विकसित भारत संकल्प यात्रा की समीक्षा करते हुए कहा कि इसमें अधिक से अधिक संख्या में नागरिकों और योजनाओं के लाभार्थियों को शामिल किया जाए. वहीं उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि जिन उद्यमियों ने यहां निवेश किया है जल्द से जल्द उनके कार्यालय यहां खोलने के लिए प्रयास किये जाएं.

इसके अलावा सीएम योगी ने ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी, न्यू नोएडा डेवलपमेंट और थीम आधारित पार्कों की भी जानकारी ली. वहीं अफसरों ने प्रेजेंटेशन के जरिए अपशिष्ट प्रबंधन, स्टार्टअप्स, यीडा मास्टर प्लान 2041 सहित नई दिल्ली-मुंबई ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे को लेकर भी मुख्यमंत्री को जानकारी दी.

अच्छी क्वालिटी के सीसीटीवी लगाएं- सीएम योगी 

सीएम योगी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सेफ सिटी के अंतर्गत लगाये जा रहे सीसीटीवी की गुणवत्ता अच्छी होनी चाहिए. इसके साथ ही कंट्रोल रूम बनाकर सीसीटीवी फुटेज को सुरक्षित रखा जाए और उन्होंने ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को लेकर अधिकारियों को निर्देशित किया. वहीं अवैध कब्जों को हटाने के लिए ठोस प्लान तैयार करने के लिए भी सीएम योगी ने कहा. सीएम योगी ने आईजीआरएस और राजस्व से संबंधित मामलों को समय से निस्तारित करने के सख्त निर्देश दिए.

सीएम योगी के साथ इस बैठक में नोएडा विधायक पंकज सिंह, दादरी विधायक तेजपाल नागर, जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह, एमएलसी चंद शर्मा, मंडलायुक्त मेरठ सेल्वा कुमारी जे, पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह, जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा, सीईओ नोएडा प्राधिकरण लोकेश एम, सीईओ यीडा अरुणवीर सिंह और सीईओ ग्रेटर नोएडा रवि कुमार एनजी भी मौजूद रहे.

Related Articles

Back to top button