crimeउत्तराखंड

मंदिर में साधु बनकर रह रहा था हत्या का आरोपी, एसटीएफ ने 6 साल बाद किया गिरफ्तार

यह शातिर अपराधी उत्तराखंड से फरार होकर उत्तर प्रदेश के बिजनौर में एक गांव के अंदर शिव मंदिर में छुपकर साधु बनकर रह रहा था. जिसकी सूचना उत्तराखंड एसटीएफ को मिली थी.

उत्तराखंड में हत्या के आरोप में फरार आरोपी उत्तर प्रदेश के एक मंदिर में साधु बनकर छुपा हुआ था. जिसे उत्तराखंड एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है. यह मामला 2018 का है, जहां पर मनीष गुप्ता नाम के युवक ने अपनी बहन के साथ छेड़छाड़ का विरोध किया था तो इस हत्या आरोपी ने मनुष्य गुप्ता के सिर पर कुल्हाड़ी मार कर उसकी जान ले ली थी. फिर भाग कर उत्तर प्रदेश चला गया था और उत्तर प्रदेश के एक मंदिर में छुपकर साधु बना बैठा था जिसे आज उत्तराखंड एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है.

साल 2018 में मनीष गुप्ता नाम के युवक की हत्या कर दी गई थी जिसमें हत्या का आरोपी वीर सिंह सैनी फरार चल रहा था. 6 साल के बाद उसे एसटीएफ ने उत्तर प्रदेश के बिजनौर से एक मंदिर से गिरफ्तार किया है. जहां पर यह आरोपी साधु बनकर छुपा हुआ था, ये हत्या हरिद्वार में 2018 में अगस्त में हुई थी. हत्या बहन के साथ छेड़ छाड़ को लेकर हुए विवाद में हुई थी. मनीष गुप्ता की बहन के साथ इस अपराधी ने छेड़ छाड़ की थी जिसका विरोध मनीष गुप्ता ने किया तो इस शातिर अपराधी ने युवक के सर पर कुल्हाड़ी से वर कर उसको घायल कर दिया था. 5 दिन बाद मनीष गुप्ता की इलाज के दौरान मौत हो गई थी तभी से अपराधी हरिद्वार के रानीपुर इलाका से फरार चल रहा था.

यह शातिर अपराधी उत्तराखंड से फरार होकर उत्तर प्रदेश के बिजनौर में एक गांव के अंदर शिव मंदिर में छुपकर साधु बनकर रह रहा था. जिसकी जानकारी उत्तराखंड एसटीएफ को मिली जिसके बाद उत्तराखंड एसटीएफ ने आज इस मौके-मौके पर जाकर गिरफ्तार किया तो उसकी पहचान वीर सिंह सैनी के रूप में हुई है. जो कि उत्तराखंड पुलिस के रिकॉर्ड में 2018 से फरार चल रहा था . उत्तराखंड एसटीएफ गिरफ्तारी के बाद इसे उत्तराखंड ले आई है और अब इस न्यायालय में पेश किया जाएगा.

Related Articles

Back to top button