Businesssuccess stories

गौमूत्र से गौधन अर्क बनाकर करोड़पति बना ये शख्स, 100 से ज्यादा लोगों को दिया रोजगार! ऐसे पाई सफलता

 गौमूत्र का नाम सुनकर लोग मुंह बना लेते हैं लेकिन गौमूत्र लोगों की जीविका के साथ ही दूसरों को भी रोजगार दे रहा है. पश्चिम राजस्थान के बाड़मेर में एक शख्स गौमूत्र से गौधन अर्क बना रहे है जिससे उसका सालाना टर्न ओवर करोड़ो रूपये है. सुनते ही भले ही अचरज में पड़ गए होंगे लेकिन यह सच है. अब आप भी इससे अच्छी कमाई कर सकते है.

अगर व्यवसाय करने की चाहत और लग्न हो तो कोई भी व्यवसाय छोटा नहीं होता है. कड़ी मेहनत व लग्न से एक छोटे से बिजनेस से भी करोड़ों का साम्राज्य खड़ा किया जा सकता है. कुछ ऐसा ही कर दिखाया है बाड़मेर के मांगीलाल बोथरा ने. मांगीलाल बोथरा जिले की दूर दराज की ढाणियों से गौमूत्र एकत्रित करते और इसे अर्क बनाकर देश के अलग अलग राज्यों में बेच रहे है.

100 से अधिक पशुपालकों को मिल रहा रोजगार

दरअसल मांगीलाल ने 65 लाख की लागत से गौधन अर्क बनाने का प्लांट लगाया है. बाड़मेर जिले के चौहटन, रामसर, गड़रारोड सहित बॉर्डर एरिया के करीब 500 गायों का गौमूत्र एकत्रित करते है. इसके लिए बाकायदा पशुपालकों को प्रति लीटर 4 रुपये गौमूत्र के दिए जाते है. रोजाना 100 से अधिक पाशुपालको को भी रोजगार मिल रहा है वही प्लांट में 12 कार्मिक भी लगे हुए है.

सालाना एक करोड़ का होता है टर्नओवर
प्लांट में आने के बाद गौमूत्र को वाष्पीकरण कर अर्क मिलाया जाता है जिससे गौधन अर्क बनता है. इस प्लांट से रोजाना 1500 लीटर गौधन अर्क बनाया जाता है. यह अर्क राजस्थान के अलावा उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश, हरियाणा सहित एक दर्जन से अधिक राज्यों में इसकी डिमांड रहती है. मांगीलाल बोथरा बताते है कि इससे एक साल में 36 से 40 टन गौधन अर्क बनता है और सालाना एक करोड़ रुपये का टर्न ओवर हो जाता है. इस प्लांट से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 125 लोगों को रोजगार मिल रहा है. गौमूत्र से तैयार गौधन अर्क को पंतजलि सहित कई नामी कम्पनियों में इसकी डिमांड रहती है.

गोमूत्र है अमृत समान
गाय का दूध सौ बीमारियों का निदान करता है तो गौमूत्र कैंसर सहित 108 बीमारियों में लाभकारी माना जाता है. धार्मिक तौर पर भी पूजा-पाठ के लिए बेहद शुद्ध माना जाने वाले गाय के दूध से गोमूत्र की उपयोगिता ज्यादा है. इसकी कीमत दूध से कहीं अधिक हो गई है. बाड़मेर ही नही बल्कि एक दर्जन से अधिक राज्यों में गौमूत्र से बने अर्क की डिमांड है. गौधन अर्क की तासीर गर्म होती है इसलिए यह पाचन संबधित समस्याओं में आराम देता है.

Related Articles

Back to top button